देश विदेशभरतपुरसंपादकीय

घर में पीपल का पौधा उग गया है तो ऐसे में क्या करे और क्या नहीं ! 

घर में पीपल का पौधा उग गया है तो ऐसे में क्या करे और क्या नहीं ! 

रिपोर्ट -ललितेश कुशवाहा 

भरतपुर – पेड़-पौधों का हमारे जीवन में विशेष महत्व है. हमारे स्वास्थ्य के साथ-साथ ये हमारे मन को सुकून प्रदान करती है. हालांकि शहरों में लोगों को ये हरियाली नहीं मिल पाती है.इसलिए अपने घरों में ही लोग गमलों में इन्हें उगाते हैं.बरामदे में, छत पर, आंगन में और कभी-कभी कमरे में अपनी पसंद के अनुसार पौधे लगाते हैं.ज्यादातर पौधों को हम नर्सरी से या बाजार से खरीदकर लाते हैं जबकि कुछ ऐसे भी हैं जो अपने आप ही उग आते हैं. इन्हीं में से एक है पीपल का पौधा.यह एक ऐसा पौधा है जो कि अपने आप कहीं भी उग जाता है. हम सभी जानते हैं कि यह एक पवित्र पौधा है, लेकिन इसे घर में लगाने से मना किया जाता है.पीपल का पौधा अगर घर में किसी दीवार पर पीपल का पेड़ उग जाए तो इसकी पूजा करने के बाद इस पौधे को तुरंत वहां से हटाकर किसी गमले में लगा देना चाहिए। इस दौरान एक बात का ध्यान हमेशा रखना चाहिए और वह ये कि इन्हें हटाते समय इसकी जड़ों को काटने की गलती ना करें क्योंकि शास्त्रों में पीपल के पेड़ को ब्रह्म कहकर संबोधित किया गया है। ऐसा माना गया है कि पीपल के मूल में भगवान श्री विष्णु, तने में शिव जी तथा अग्रभाग में ब्रह्मा जी का निवास होता है.पीपल के पेड़ को घर की पूर्व दिशा में लगाने की गलती कभी भी ना करें क्योंकि इससे घर में भय और निर्धनता आती है। इसकी पूजा करने के बाद इसे गमले में लगाकर पास के किसी मंदिर में रख आए। इसे उखाड़ने या काटने से बचें क्योंकि इससे इसका नकारात्मक प्रभाव आपके ही जीवन पर पड़ेगा.ऐसा करने से आपका वैवाहिक जीवन खतरे में पड़ सकता है और संतान की तरफ से भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है.ऐसा इसलिए क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इसे काटने से पितरों को कष्ट मिलते हैं तथा वंशवृद्धि की हानि होती है.